Friday, August 10, 2018

पैरो के दर्द का घरेलु उपचार

पैरो के दर्द का  घरेलु उपचार - पैरो के दर्द की समस्या आजकल हर आदमी को होती है ये    समस्या आज के बच्चो के में देखने को मिल जायेगी |                                    

                           
पैरो के दर्द के घरेलु उपचार

पैरो के दर्द का घरेलु उपचार 


  1. पैरों के दर्द (सायटिका) में शिवा गुग्गुल 1-2 ग्राम की मात्रा  में भोजन के बाद लेने से लाभ    होता है |
  2. पथ्यादि गुग्गुल 2 से 3 ग्राम की मात्रा में सेवन करने से लाभ  होता है।
  3. लहसुन  हींग जीरा, त्रिकटु, अजवायन और सेंधा नमक को 10-10 ग्राम लेकर मिश्रण बनाएंसुबह- शाम 1-1 ग्राम की मात्रा  में लेने से सायटिका में आराम मिलता है। 
  4.  वातनाशनी वटी 1-1 गोली दिन में तीन बार लेने से सायटिका में आराम मिलता है।
  5.  महामाष तेल (निरामिष) की मालिश करने से भी बहुत लाभ होता है।
  6.  दूध में अरण्डी के बीज छिलका रहित) को पीस कर पीने से पैरों के दर्द में आराम मिलता है।
  7.  त्रयोदशांग गुग्गुल की 2-4 गोली गर्म दूध के साथ चबाकर सुबह शाम खाएं इससे सायटिका रोग की पीड़ा शान्त होती है।
  8. कई बार होता है कि पेट के बल होने के कारण आपको शरीर के कई हिस्सों में दर्द की समस्या हो जाती   है। सबसे ज्यादा रीढ़ की हड्डी और पैर की हड्डियों में दर्द होता है। इसलिय पेट के बल सोने से बचे |
   जूते हमेशा ऐसे पहनने चाहिए जिसमें आप पर फिट बैठे अगर अपने गलत साइज के जूते पहनें तो इससे आपको पैरों में दर्द होने लगेगा |
पैरो के दर्द के घरेलु उपचार


चोट व मोच के कारण दर्द होना -

एक लीटर गर्म पानी में 250 ग्राम साबुन के टुकड़े घोलने के बाद उसमें 500 मि.ली . तारपीन का तेल मिला लें और एक साफ शीशी में भरकर रख ' ले जहां चोट या मोच आयी हो, वहां रुई की फुरेरी से इस तेल को लगाने  से आराम मिलता है।

नोट
यह नुस्खा सिर्फ पेरो के दर्द और पैरो में लगी चोट के कारण होने वाले दर्द के लिय है इसे जखम में प्रयोग ना करे |





0 comments: