Sunday, August 12, 2018

दस्त लगने के 10 घरेलु उपचार

दस्त लगने के घरेलु उपचार -

पेचिश रोग शरीर को अत्यंत दुर्बल कर देता  है। इसलिए रोगी को इन रोगों से जल्दी-से-जल्दी छुटकारा पा लेना चाहिए। नही ये रोग आपके शरीर को बहुत कमजोर कर देते है

दांत दर्द का इलाज



                      10 Home Remedies for Diarrhea

दस्त क्या होता है - 

दस्त (diarrhea)उस प्रकार का रोग है जिसमे मल पतला निकलता  है  और पेट में  अचानक से दर्द  उठने लगता है |

दस्त लगने के 10 घरेलु उपचार-

  •     कैंथा के कच्चे फल का गूदा और इसके वृक्ष के तने से निकलने वाला पारदर्शी गोंद पेचिश व   डायरिया के निवारण में महत्वपूर्ण  भूमिका अदा करता है।
  •       कैथा के पके फल का गूदा डायरिया और बदहजमी में लाभदायक रहता है। इसके लिए गूदे में मधुजीरा व इलायची का चूर्ण मिलाकर सेवन कर ना चाहिए।
  •      ताजे आंवले के फल के रस में कागजी नींबू का रस मिलाकर शर्बत बना लें। इस शर्बत को पीने  से पेचिश (दस्त) में बड़ी राहत मिलती है। पेचिश में सुखाए आंवले भी बेहद उपयोगी होते हैं।
  •      आवले की पत्तियां भी इस दृष्टिकोण से बड़ी महत्वपूर्ण होती हैं। इसके लिए पत्तियों को चटनी की भांति पीस लें। इसे एक चाय के चम्मच में लेकर उसमें शहद मिलाकर चाट जाएं। इस प्रकार इन रोगों से छुटकारा मिल जाता है।
  •      बेल के फल का सेवन करने से पुरानी पेचिश (दस्त) में राहत मिलती है। बेल का शर्बत पीने से आंतों को आराम मिलता है और बेसिलिरी पेचिश से छुटकारा मिलता है।
  •       जामुन के बीज और इसके वृक्ष की छाल का काढ़ा पीने से भी पेचिश में राहत मिलती है।
  •     इसी प्रकार बेर के वृक्ष की छाल तथा अनार के फल के छिलकों का भी पेचिश (दस्त) व  डायरिया से छुटकारा दिलाने में विशेष योगदान रहता है।
  •       मेथी की पत्तियां और बीज (दान) भी डायरिया और पेचिश में बड़े लाभकारी होते हैं। इसके लिए मेथी का सब्जी बनाकर खाना चाहिए।
  •      एक चाय के चम्मच जितना जीरे को एक गिलास पानी में उबाल लें। फिर उसमें एक चाय चम्मच धनिया की हरी पत्ती का रस मिलाकर थोड़ा-सा नमक मिला दें। फिर छान कर इस कारों को सुबह-शाम लेते रहेंजिससे डायरिया में राहत मिलती है। इसके अलावा जीरा और सौंफ के दाने प्रत्येक को बराबर-बराबर मात्रा में लेकर तवे पर भून लें। फिर इन्हें पीसकर चूर्ण बना लें और शीशी में सुरक्षित रख लें। इस चूर्ण की लगभग 3 ग्राम मात्रा 3-3 घंटे पर4 बार ताजे ठंडे पानी से फांकते रहें। दस्त बंद हो जाएगा।
  •     पीपल की कोमल पत्तियों और धनिया की पत्तियों को शक्कर के साथ चबा-चबाकर इनका रस चूसने से पेचिश ठीक हो जाती है।
पेचिश (दस्त)को दूर करने के 10 घरेलु उपचार

अगर आप इन  बताए गये उपाय को सही से प्रयोग करते है तो आप को दस्त लगना बंद हो जायेगे |

0 comments: